विकास शर्मा

मरियम वेब्स्टर ने साल 2023 का वर्ड ऑफ द ईयर यानी साल का शब्द का खिताब ऑथेंटिकेट, या प्रमाणिक को दिया है. इस साल डीपफेक जैसे कई चर्चित शब्द भी शीर्ष शब्द की इस प्रतियोगिता में दावेदार थे, लेकिन देखा गया है कि यह साल वास्तव में प्रमाणिकता के संकट का साल था.

शब्दों का भी अपना संसार है. हर साल कई नए शब्द शब्दकोष में शामिल होते हैं कुछ बहुत चर्चित होते हैं तो कुछ के अर्थ बदल जाते हैं, तो कुछ के खास अर्थ हो जाते हैं. इस साल भी कई विषय और शब्द खूब चर्चा या सुर्खियों में रहे. जहां तकनीक में आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस की खासा जलवा रहा तो वहीं एलन मस्क ने भी अपने ट्विटर का नाम एक्स कर खूब सुर्खियां बटोरी. वहीं, मरियम वेबस्टर के मुताबिक साल 2023 में कई शब्द लोकप्रिय रहे जिनमें कुछ नए भी शामिल किए गए, लेकिन इनमें से बाजी जीती शब्द ऑथेंटिक ने. इस ऑनलाइन डिक्शनरी ने इस शब्द को खास प्रक्रिया के जरिए 2023 के साल का शब्द करार दिया है.

इस साल खूब रही इसकी अहमियत
मरियम वेबस्टर के एडिटसर पीटर सोकोलोवस्की ने ऐलान किया कि साल 2023 का शब्द ऑथेटिंक है. एपी की रिपोर्ट के मुताबिक सोकोलोवस्की ने बताया कि दुनिया ने 2023 में एक तरह से ऑथेंसिटी यानि प्रामाणिकता का संकट देखा था. हमने देखा है कि जब हम प्रामाणिकता पर सवाल उठाते हैं, तब उसे और अधिक अहमियत देते हैं.

अचानक या किसी दौर में नहीं खोजा गया यह शब्द
इस साल ऑथेंटिक शब्द की किसी समय पर बहुत अधिक तो खोज नहीं हुई पर यह नियमित तौर पर खोजा जाता रहा और लोगो कि इसमें रुचि लगातार बनी रही. सोकोलोवस्की और उनकी टीम् इस बात की पड़ताल तो नहीं कि लोग किसी खास शब्द की डिक्शनरी या  वेबसाइट सर्च में क्यों खोज करते हैं. लेकिन उन्होंने उन आंकड़ों पर निगाह जरूर डाली जिससे इस शब्द का दुनिया की घटनाओं से संबंध था.

कैसे चुना जाता है साल के शब्द को
शब्दों का चयन आमतौर पर केवल इंटरनेट सर्च के आधार पर ही नहीं चुना जाता है. बल्कि इसके लिए ऑनलाइट ओपिनिन पोल की तरह रायशुमारी भी होती है. जिसमें सम्पादक अधिक सर्च किए जा रहे और नए शब्दों की सूची तैयार करते हैं जिस पर लोग अपनी राय देते हैं. इसके अलावा जैसा कि सोकोलोवस्कीकी टीम ने किया शब्दों से संबंधित घटनाओं पर भी नजर रख शब्द की लोकप्रियता या उपयोग का आंकलन करते हैं.

और किन शब्दों से था मुकाबला
ऑथेंटिक का मुकाबले डीपफेक, रिज (युवा लोग करिश्मा के लिए इस शब्द का इस्तेमाल करते हैं), कोरोनेशन (सम्मान के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला शब्द) जैसे शब्दों से था  जिन्हे अधिकांश लोगों ने डिक्शनरी को भेजा था.  इनके अलावा किबबट, इम्प्लोड, डेडनेम, डोपलगैंगर, डिस्टोपेन, कोवनेंट, और इंडिक्ट जैसे शब्द भी प्रतिस्पर्था में थे.

एआई में ऑथेंटिक का अधिक उपयोग
यह साल आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस के लिहाज से बहुत ही अधिक सक्रिय और उथल पुथल वाला भी रहा. जहां चैटजीपीटी के निर्माता ओपन एआई में नेतृत्व संकट देखा तो एआई पर दुनिया के दिग्गज उसके लिए नीतियों पर चर्चा करते दिखाई दिए. ट्वीटर जो इस साल से एक्स कहलाने लगा है, के मालिक एलन मस्क ने भी दुनिया के नेताओं, मंत्रियों कंपनियों, आदि से गुजारश की कि वे सोशल मीडिया पर अपने अकाउंट पर प्रामाणिकता के साथ बोलें.

बहुत व्यापक अर्थों में भी उपयोग
जहां प्रमाणिक शब्द का अपने आप में व्यापक उपयोग है वहीं इसे कई शब्द के साथ अलग अर्थों में भी उपयोग में लाया जाता है.  लेकिन मूल शब्द के अर्थ ही विषय पर सोकोलोवस्की ने कुछ सवाल पूछे जो इस मामले में काफी प्रासंगिक हैं. क्या हम इस पर विश्वास कर सकते हैं कि एक छात्र ने यह शोध लिखा है. क्या हम इस पर विश्वास कर सकते हैं कि क्या यह बयान एक राजनेता ने दिया है. कई बार हम अपनी ही आखों पर विश्वास नहीं करते हैं.

ऑथेंटिकेट या प्रामाणिक मरियम वेब्स्टर का 20वें साल का साल का शब्द था जिसे करीब 5 लाख शब्दों में से चुना गया था जो कि इस इस साल सर्च किए गए थे.  पिछले साल की शब्द गैसलाइटिंग था जोकि एक भावनात्मक अपशब्द है जो लोग खुद से सवाल करते समय उपयोग में लाते है. वहीं 2021 में कोविड-19 की महामारी के युग के कारण चुना गया शब्द वैक्सीन था.

     (‘न्यूज़ 18 हिंदी’ से साभार )

Spread the information

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *