अमित उपाध्याय

देश में कोविड के नए वेरिएंट JN.1 के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. भारत में इस वेरिएंट के मामले सबसे पहले केरल में मिले थे. इसके बाद कई अन्य जगहों पर भी कोरोना के केस मिलने की खबर सामने आई. इसके बाद देशभर में इसे लेकर अलर्ट जारी किया गया है. डॉक्टर से जानेंगे कि नए वेरिएंट से किस तरह बचा जाए.

कोविड के नए स्ट्रेन JN.1 ने भारत समेत दुनिया के कई देशों में एक बार फिर तहलका मचा दिया है. कोरोना के नए वेरिएंट को बेहद संक्रामक माना जा रहा है और देश में अब तक इसके कई मामले सामने आ चुके हैं. हालात को देखते हुए केंद्र सरकार एक्टिव हो गई है और सभी राज्यों को अलर्ट जारी कर दिया है. सरकार ने कोविड को लेकर हाई लेवल मीटिंग की है और सभी अस्पतालों को भी अलर्ट रहने का निर्देश दिया है.

कोविड के नए वेरिएंट JN. 1 के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. इसके मामले सबसे पहले केरल और फिर तमिलनाडु में मिले थे, जिसके बाद कई अन्य जगहों पर भी संक्रमण फैलने की बात सामने आई है. जिस रफ्तार से कोरोना के नए वेरिएंट के मामले बढ़ रहे हैं, उसे देखते हुए लोगों की चिंता बढ़ गई है. हर कोई यह जानना चाह रहा है कि आखिर इस मुसीबत से किस तरह बचा जाए.

दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन के पूर्व प्रेसिडेंट और सीनियर फिजिशियन डॉ. अनिल बंसल के मुताबिक कोविड का वायरस लगातार म्यूटेट करता रहता है और नया वेरिएंट आ जाता है. वर्तमान में कोविड का नया सब-वेरिएंट JN.1 तेजी से फैल रहा है और अगर लोग इसे लेकर सावधानी नहीं बरतेंगे, तो हालात भयावह हो सकते हैं. देश में जनसंख्या ज्यादा है और ऐसे में इसके फैलने का खतरा भी ज्यादा है.

हालांकि अगर एहतियात बरती जाए, तो इसे वक्त रहते कंट्रोल किया जा सकता है. नए वेरिएंट का असर लोगों की इम्यूनिटी के अनुसार अलग-अलग तरीके से होता है. हालांकि जो लोग पहले से किसी संक्रमण या गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं, उन्हें विशेष सावधानी बरतनी चाहिए. ऐसे लोगों के लिए कोविड का नया वेरिएंट ज्यादा खतरनाक हो सकता है.

कोविड के JN.1 वेरिएंट से बचाएंगे ये 5 तरीके

– कोविड के नए वेरिएंट से बचने के लिए लोग भीड़भाड़ वाले इलाकों में न जाएं. शादी-विवाह या अन्य पार्टियों में शामिल होने से बचें और लोगों से हाथ न मिलाएं.

– समय-समय पर साबुन से अपने हाथ धोएं और किसी भी चीज को छूने के बाद सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें. इससे आपको वायरस से बचने में मदद मिलेगी.

– बाहर निकलते वक्त मास्क लगाएं, ताकि वायरस हवा के जरिए आपको संक्रमित न कर सके. मास्क न हो, तो बाहर जाते वक्त रूमाल का इस्तेमाल कर सकते हैं.

– अगर किसी व्यक्ति को कोविड के लक्षण नजर आएं या वह कोविड से संक्रमित हो, तो उसके संपर्क में आने से बचें. अगर संपर्क में आएं, तो तुरंत अपनी जांच करवाएं.

– कोविड के लक्षण दिखने पर क्वालिफाइड डॉक्टर से मिलकर अपना इलाज कराएं. बिना डॉक्टर की सलाह के एंटीबायोटिक और स्टेरॉइड दवाएं लेना खतरनाक हो सकता है.

       (‘न्यूज़ 18 हिंदी’ से साभार )

Spread the information

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *