प्रतीति पांडे

हम अपनी नंगी आंखों से सूर्य को देख नहीं पाते क्योंकि इसमें इतनी ऊर्जा और रोशनी होती है कि आंखें चकाचौंध होने लगती है. हालांकि दो एस्ट्रोफोटोग्राफर्स ने मिलकर सूर्य की ऐसी क्लियर और क्लीन फोटो बनाई है. इसके लिए NASA के डेटा की मदद ली गई है. चलिए आपको दिखाते हैं सूरज की अद्भुत तस्वीरें, जो आपने पहले नहीं देखी होंगी.

अंतरिक्ष की दुनिया काफी रहस्यमयी है. यहां सूरज, चांद, तारे और हमारी धरती भी है. जहां धरती की तस्वीर देखने पर ये बेहद खूबसूरत दिखती है क्योंकि यहां नीला समुद्र, हरियाली, खाली ज़मीनें और बादल तक दिखते हैं, वहीं सूरज की इमेज इससे बिल्कुल अलग है. ये एक दहकते हुए गोले की तरह लग रहा है.

तस्वीर में सिर्फ पानी की लहरों की तरह ही आग की लहराती हुई लपटें दिखाई देंगी. प्लाज़्मा की लहरे किसी सांप की तरह रेंगती हुई दिख रही हैं. इतना ही नहीं सोलर स्टॉर्म भी तस्वीर में देखा जा सकता है. सूर्य की ऐसी अद्भुत फोटो आज तक नहीं देखी गई थी.

जेसन गुएंज़ेल और एंड्र्यू मैककार्थी नाम के एस्ट्रोफोटोग्राफर्स ने इस तस्वीर को तैयार करने लिए अपनी तस्वीरों के अलावा नासा के नासा के सोलर एंड हेलियोस्फेयरिक ऑब्जरवेटरी स्पेसक्राफ्ट (SOHO) से ली गई तस्वीरों को भी शामिल किया है. इस स्पेसक्राफ्ट को 1995 में नासा और ईएसए ने मिलकर लॉन्च किया था.

इस साफ तस्वीर को बनाने के लिए कुल 90 हज़ार सैटेलाइट इमेज को जोड़ा गया है और पूरा सूर्य बनाया गया है. फ्लूजन ऑफ हेलियोस नाम की इस तस्वीर में सूरज की संरचनाएं करीब से दिख रही हैं. इतना ही नहीं वहां होने वाली हलचल भी महसूस की जा सकती है.

फोटोग्राफर्स का कहना है कि वे अपनी तस्वीर को विज्ञान के साथ-साथ कलात्मक भी बनाना चाहते थे. यही वजह है कि ये हाइपर एक्यूरेट इमेज बनाई गई. इस फुल मोजैक इमेज की सबसे बड़ी चुनौती सैटेलाइट और कैमरा की तस्वीरें मर्ज करना था.

तस्वीर में एक लेयर के नीचे दूसरे लेयर भी दिख रही है और ये सूर्य की चमक की वजह से संभव हुआ है. सॉफ्टवेयर की मदद से 90 हज़ार फोटो को जोड़कर ये आखिरी तस्वीर निकली है. इसमें आप सोलर टॉर्नैडो को साफ-साफ देख सकते हैं, जो 14 धरती की ऊंचाई के बराबर है.

   (‘न्यूज़ 18 हिंदी’ के साभार )

Spread the information

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *